शुरुआती गाइड

भारत में बेस्ट फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म

भारत में बेस्ट फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म
बाइनरी ट्रेडिंग में विदेशी मुद्रा, क्रिप्टोकरेंसी और सोने-चांदी जैसी कमोडिटी में ट्रेडिंग करने का ऑप्शन दिया जाता है। यहां पर लोगों को अनुमान लगाना होता है कि फलां कमोडिटी कितना आगे या फिर नीचे जाएगी। मान लीजिए आपने डॉलर पर अनुमान लगाया कि वो अगले एक से पांच मिनट में नीचे जाएगा, और आपने 10 डॉलर के साथ स्ट्राइक लगाई। अब एक मिनट में जो डॉलर नीचे जा रहा था, वो एकदम से ऊपर चला जाएगा। इससे आपके वो 10 डॉलर भी डूब जाएंगे। आप जितना भी पैसा लगाएंगे वो डूबता ही चला जाएगा।

RBI Alert List : इन ऐप्स और वेबसाइट्स से सावधान ! इन पर किया फॉरेन करेंसी ट्रांजैक्शन तो हो सकती है कानूनी कार्रवाई

RBI Alert List : इन ऐप्स और वेबसाइट्स से सावधान ! इन पर किया फॉरेन करेंसी ट्रांजैक्शन तो हो सकती है कानूनी कार्रवाई

RBI की अलर्ट लिस्ट में शामिल 34 एंटिटीज़ को विदेशी मुद्रा में लेनदेन करने या ETP ऑपरेट करने की इजाजत नहीं दी गई है.

RBI Alert List of entities not authorised to deal in forex: अगर आप किसी ऐसी वेबसाइट के जरिए फॉरेन एक्सचेंज से जुड़ा लेनदेन करते हैं या करने की सोच रहे हैं, जिसके कानूनी तौर पर वैध होने के बारे में आपको पक्के तौर पर कुछ पता नहीं है, तो सावधान हो जाइए. रिजर्व बैंक ने ऐसी 34 एंटिटीज़ और उनकी वेबसाइट्स की अलर्ट लिस्ट जारी की है, जिनके जरिए विदेशी मुद्रा से जुड़ा कोई भी लेनदेन करने पर आपके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा सकती है.

रिजर्व बैंक की चेतावनी

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तरफ से बुधवार को जारी एक बयान में बताया गया है कि अलर्ट लिस्ट में शामिल इन 34 एंटिटीज़ या वेबसाइट्स को विदेशी मुद्रा में लेनदेन करने या फॉरेक्स ट्रांजैक्शन्स के लिए इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म (ETP) ऑपरेट करने की कोई इजाजत नहीं दी गई है. लिहाजा इनका इस तरह की गतिविधियां संचालित करना पूरी तरह से गैरकानूनी हैं. रिजर्व बैंक ने यह चेतावनी भी दी है कि इन वेबसाइट्स के जरिए किसी भी तरह का विदेशी मुद्रा से जुड़ा लेनदेन करना न सिर्फ जोखिम भरा है, बल्कि ऐसा करने वाले के खिलाफ 1999 के विदेशी मुद्रा प्रबंधन कानून (FEMA) के तहत कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है.

Top Stocks for Portfolio: दिवाली के पहले मजबूत भारत में बेस्ट फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म करें पोर्टफोलियो, ये हैं बेस्‍ट 22 लार्जकैप और मिडकैप शेयर

विदेशी कंपनियों में पैसा लगाने की रहे हैं सोच? तो हो जाएं सावधान, समझें पूरा मामला

विदेशी कंपनियों में पैसा लगाने की रहे हैं सोच? तो हो जाएं सावधान, समझें पूरा मामला

अभिषेक श्रीवास्‍तव | Edited By: सौरभ शर्मा

Updated on: Feb 06, 2022 | 6:35 AM

क्‍या आप भी फेसबुक (Facebook), ट्विटर (Twitter), यूट्यूब (Youtube), गूगल (Google), बिंग आदि सोशल मीडिया (Social Media) प्‍लेटफॉर्म्‍स पर विज्ञापन देखकर विदेशी कंपनियों में पैसा लगाकर मोटा मुनाफा (Profit) कमाने की सोच रहे हैं. अगर हां, तो तुरंत अपनी सोच को यहीं रोक दीजिए. भारतीय रिजर्व बैंक यानी RBI ने अनऑथराइज्‍ड इलेक्‍ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्‍लेटफॉर्म यानी ETP पर विदेशी मुद्रा कारोबार नहीं करने या ऐसे लेनदेन के लिए पैसे भेजने से जनता को सावधान किया है. RBI ने अपनी चेतावनी में कहा है कि ऐसा करने वालों के खिलाफ विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम यानी फेमा के तहत दंडात्‍मक कार्रवाई की जाएगी. केंद्रीय बैंक को पता चला है कि सोशल मीडिया, सर्च इंजन, ओटीटी प्‍लेटफॉर्म्‍स, गेमिंग ऐप्‍स और इसी तरह के दूसरे प्‍लेटफॉर्म्‍स पर भ्रामक विज्ञापनों के जरिये अनाधिकृत ईटीपी से विदेशी मुद्रा कारोबार की पेशकश की जा रही है.

ऐसे विज्ञापनों पर भी रोक की तैयारी

केंद्रीय बैंक मंत्रालय और नियामक संस्‍था से प्रमुख सोशल मीडिया और सर्च इंजन प्‍लेटफॉर्म्‍स जैसे फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब, गूगल, बिंग आदि के लिए कुछ ऐसे नए प्रावधान बनाने के लिए कहेगा, जो ऐसे विज्ञापनों पर रोक लगाएंगे. इसके अलावा गूगल, एप्‍पल और माइक्रोसॉफ्ट के प्रमुख ऐप स्‍टोर से भी भारतीय कानून का पालन नहीं करने वाले अनऑथराइज्‍ड ट्रेडिंग प्‍लेटफॉर्म को हटाने के लिए कहा जाएगा. इलेक्‍ट्रॉनिक फॉरेक्‍स ट्रांजेक्‍शन के लिए केवल आरबीआई अधिकृत ईटीपी या मान्‍यताप्राप्‍त स्‍टॉक एक्‍सचेंज का ही इस्तेमाल करें.

ऐसा भी पता चला है कि अनाधिकृत ईटीपी ने कुछ एजेंट्स भी नियुक्‍त किए हैं, जो लोगों से सीधा संपर्क कर उन्‍हें फॉरेक्‍स ट्रेडिंग या इनवेस्‍टमेंट स्‍कीम में बहुत अधिक लाभ का लालच देकर निवेश करवा रहे हैं. आरबीआई ने इसे एक नए तरह की धोखाधड़ी बताया है, जिससे सभी लोगों को सावधान रहने की जरूरत है.

गणेश चतुर्थी के मौके पर आज बंद रहेंगे शेयर और कमोडिटी बाजार

Stock Market Trading Holidays

Stock Market Trading Holidays: गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) के उपलक्ष्य पर आज यानि शुक्रवार (10 सितंबर 2021) को घरेलू शेयर बाजार (Share Market) और कमोडिटी मार्केट (Commodity Market) बंद रहेंगे. फॉरेक्स (करेंसी) में भी आज कामकाज नहीं होगा. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) पहले की तरह सोमवार (13 सितंबर 2021) को खुलेंगे. दोपहर के कारोबार में देश के सबसे बड़े कमोडिटी एक्सचेंज मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX), नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव एक्सचेंज (NCDEX) और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) में शाम 5 बजे तक कारोबार (Find NSE Holiday List 2021) बंद रहेगा.

कम से कम 3000 डॉलर का निवेश

अगर आपने यहां से थोड़ा सा भी पैसा कमा लिया तो वो आप निकाल नहीं पाएंगे। इन ट्रेडिंग एप पर आपको कम से कम तीन हजार भारत में बेस्ट फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म डॉलर (करीब 2,10,000 रुपये) का निवेश करना होगा, तभी वो व्यक्ति इन खातों से जीता हुआ पैसा निकाल सकेगा। अगर उसने इतना पैसा नहीं निवेश भारत में बेस्ट फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म किया तो उसको खाते से पैसा निकालने के लिए अनुमति नहीं मिलेगी।

हालांकि लोगों को निवेश करने के लिए अपने डेबिट या फिर क्रेडिट कार्ड (वीजा या मास्टरकार्ड) से पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं। एक बार जहां आपने अपने कार्ड की डिटेल्स दे दी, तो समझ लीजिए कि आपका खाता हैक होने में देर नहीं लगेगी।

केवल नाम और ईमेल आईडी से सेकंडों में बनेगा खाता

लोगों को इन ट्रेडिंग एप पर केवल अपना नाम और ईमेल आईडी देनी होती है, जिसके तुरंत बाद ही खाता बन जाता है। यह कंपनियां किसी भी तरह का पासवर्ड या एप को इंस्टॉल करने के बाद लॉगआउट का ऑप्शन भी नहीं देती हैं।

आजकल सोशल मीडिया वेबसाइट्स पर बाइनरी ट्रेडिंग कराने वाले एप का प्रचार जोर शोर से हो रहा है। यह मोबाइल एप लोगों को जल्द से जल्द पैसा कमाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं, लेकिन वास्तविकता में इनमें अगर आप निवेश करते हैं, तो फिर पैसा बढ़ने के बजाए डूबेगा।

करते हैं लाखों रुपये कमाने का वादा

कम निवेश में यह बाइनरी ट्रेडिंग एप लोगों को ज्यादा पैसा कमाने का वादा करते हैं। इन कंपनियों का कहना होता है कि लोग 10 डॉलर (700 रुपये) के छोटे से निवेश से एक माह बाद 10000 हजार डॉलर (7 लाख रुपये) तक कमा सकते हैं। हालांकि ऐसा हकीकत में कुछ भी नहीं होता है। यह एक तरह का छलावा है, जैसा हाल ही में क्लिक एंड लाइक, बाइक बोट, स्पीक एशिया ने लोगों के साथ किया था और लाखों लोगों के करोड़ों रुपये डूब गए थे।

बाइनरी ट्रेडिंग एप इसलिए भी खतरनाक हैं, क्योंकि इनको भारत में व्यापार करने के लिए किसी भी तरह की मान्यता सेबी, आरबीआई या सरकार से नहीं मिली है। वहीं अगर कोई व्यक्ति थोड़े बहुत पैसे भी इन बाइनरी एप से कमा लेता है, तो वो फेमा कानून के तहत फंस सकता है। दूसरी तरफ इन कंपनियों का रजिस्ट्रेशन टैक्स हैवेन देशों में हैं, जहां से आप किसी तरह की कोई मदद नहीं पा सकते हैं।

Bombay Stock Exchange के जरिए किसान बेच सकेंगे अपनी फसल, सीधे खाते में आएगा पैसा

मोदी सरकार किसानों की आय को बढ़ाने को लेकर कई तरह के प्रयास कर रही भारत में बेस्ट फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है. इसी दिशा में किए गए एक प्रयास के तहत किसानों को अब शेयर बाजार (stock market) के जरिए भी अपनी फसल को बेचने की सुविधा मिलेगी.

किसान अब अपनी उपज बीएसई के जरिए भी बेच सकेंगे (फोटो -रॉयटर्स )

मोदी सरकार (Modi government) किसानों की आय को बढ़ाने (income of farmers) को लेकर कई भारत में बेस्ट फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म तरह के प्रयास कर रही है. इसी दिशा में किए गए एक प्रयास के तहत किसानों को अब शेयर बाजार (stock market) के जरिए भी अपनी फसल भारत में बेस्ट फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म को बेचने की सुविधा मिलेगी. बांबे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) की तरफ से इस सुविधा की शुरुआत की गई. बीएसई के इस प्लेटफार्म (BSE platform) के जरिए किसान अपनी उपज को निलाम कर अच्छा मुनाफा कमा सकेंगे. यह हाजिर बाजार इलेक्ट्रॉनिक (electronic) होगा जहां किसानों की उपज रजिस्ट्रर्ड (registered) की जाएगी और बिक्री के लिए उसकी नीलामी की जाएगी जिसमें देश भर के खरीदार हिस्सा ले सकेंगे.

रेटिंग: 4.37
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 186
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *